Tags


हम आहिर हे, प्यार से मांग लो
‘ जान हाजिर ‘ ।
वरना तलवारों से इतिहास लिखना
हमारी परंपरा हे ।।