कुछ कदमों के फासले थे
हम दोनों के दरमीयान,
उन्हें जमाने ने रोक़ लिया ,
और हमने अपने आपको..!!