मुझे युही करके ख्वाबो से जुदा ,
जाने कहा छुप के बैठा हे खुदा ;
जानू ना में कब हुवा खुद से गुमशुदा ,
केसे जियु रूह भी मुझसे हे जुदा ..!