इतना भी गुमान न कर आपनी जीत पर ” ऐ बेखबर ”
शहर में तेरे जीत से ज्यादा चर्चे तो मेरी हार के
हैं।….।।