तेरे शहर के कारीगर बङे अजीब हैं
ए दिल,
काँच की मरम्मत करते हैं पत्थर के
औजारों से …!!