गये थे हम उनके आंशु पोछने ,
बेवजा इल्जाम लग गया हमे
उनको रुलाने का …!