दुनियादारी की चादर ओढ़ी है।
पर जिस दिन दिमाग सटका ना,
इतिहास तो इतिहास।
भूगोल भी बदल देंगे।