वो रोई तो जरूर होगी, खाली कागज़देखकर,ज़िन्दगी कैसी बीत रही है, पूछा था उसने ख़त में…..