सुना था कभी किसी से ,
ये खुदा की दुनिया है मोहोब्बत से चलती हैं, करीब से जाना तो समझे ,
ये स्वार्थ की दुनिया हैं बस जरुरत से चलती हैं !!