सबर कर बन्दे मुसीबत के दिन भी गुज़र जायेंगे… हसी उड़ाने वालो के भी चेहरे उतर जायेंगे…