मैं चलते-चलते इतना थक गया हूँ,
चल नहीं सकता, मगर मैं सूर्य हूँ,
संध्या से पहले ढल नहीं सकता.