परिंदों सी उड़ान भरी थी तुझ को पाने को।
तेरा आसमां देख चक्कर खा गए।