नाव में बेठ के धोये थे उस ने हाथ कभी पुरे तालाब में मेहँदी की महक आज भी हे ।
Status4whatsapp