दोलत मेरा नशा हे..
खोफ मेरा हथीयार हे..
जीन्दगी से खेलना मेरा शोख हे..
ओर खेलता हु वो भी अपनी शरतो पर..
ओर जीतना मेरी झीद नही मेरी आदत हे..