तलब ये कि तुम मिल जाओ,
हे सरत ये कि उम्र भर के लिये ।