जब हुई थी मोहब्बत तो लगा किसी अच्छे काम का है सिला। खबर न थी के गुनाहों कि सजा ऐसे भी मिलती है।