ऐ “ख़ुदा” तू कभी इश्क न करना..
बेमौत मरा जायेगा ! हम तो मर के भी तेरे पास आते है पर तू कहा जायेगा………