अजब मुकाम पे ठहरा हुआ है काफिला जिंदगी का, सुकून ढूंढने चले थे, नींद ही गंवा बैठे”…..!!!